असम
70 / 100

असम: “राहुल गांधी द्वारा कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’: एक अनूठे संघर्ष की शुरुआत

शनिवार को अरुणाचल प्रदेश में आयोजित हुई कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ ने देशवासियों को एक अद्वितीय और जानवरी 2024 के चुनावी माहौल में एक नए संघर्ष की शुरुआत के लिए तैयार कर दिया। इससे पहले जब यात्रा असम में थी, तो उस पर हमला हुआ, लेकिन कांग्रेस ने इसे बीजेपी के हाथ का कारण बताया है।

तीर्थयात्रा का सातवां दिन सन्नाटे भरे अरुणाचल प्रदेश के पापुम पारे जिले के गुमतो चेक प्वाइंट पर आयोजित ध्वज स्थानांतरण समारोह में राहुल गांधी का स्वागत नबाव तुकी, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने किया। इस मौके पर राहुल ने एक सभा को संबोधित किया और वहां ठेला व्यवसायियों से भी चर्चा की।

Ram Mandir Ayodhya **राम मंदिर का उद्घाटन:**

पहले ही असम में यात्रा के दौरान हुए हमले के बाद, कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि यह हमला बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने किया है, जो विपक्ष पर हमला कर दहशत फैलाने की कोशिश कर रही है।

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने ट्वीट किया है कि ‘न्याय के लिए राहुल गांधी की लड़ाई जारी रहेगी।’ उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि भ्रष्ट मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा भाजपा के प्रति अपनी वफादारी दिखाने के लिए ऐसे कायरतापूर्ण हमले कर रहे हैं

यात्रा में बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा गाड़ियों को नुकसान पहुंचाने, पोस्टर फाड़ने के वीडियो के साथ-साथ कांग्रेस नेताओं ने सामरिक रूप से इसकी सुरक्षा और समर्थन की व्यवस्था की है।

यह यात्रा 14 जनवरी को मणिपुर से शुरू हुई थी और 20 मार्च को मुंबई में समाप्त होगी। इसके दौरान राहुल गांधी ने 67 दिनों में 6,713 किमी की यात्रा का कार्यक्रम बनाया है।