दिनदहाड़े फ्रीलांस फोटोग्राफर की गोली मारकर हत्या
60 / 100

दिनदहाड़े फ्रीलांस फोटोग्राफर की गोली मारकर हत्या

नागपुर: अज्ञात हमलावर ने एक की हत्या कर दी एक फ्रीलांस फोटोग्राफर की उसके घर में घुसकर गोली मारकर हत्या कर दी गई, जिससे उपराजधानी में सनसनी फैल गई। पूरे नागपुर शहर को हिला देने वाली यह घटना शनिवार दोपहर सदर पुलिस स्टेशन क्षेत्र के राजनगर छावनी में हुई। मृतक का नाम विनय उर्फ ​​बब्लू पुणेकर (45, राजनगर, नागपुर) है। पूर्णाकर के घर के बाहर लगे सीसीटीवी में कैद हुआ है कि संदिग्ध तुरंत घर से निकल रहा है.

विनय पुणेकर फ्रीलांस फोटोग्राफर के तौर पर काम कर रहे थे. इससे पहले वह नागपुर टाइम्स में पत्रकार और फोटोग्राफर थे। अखबार बंद होने के बाद उन्होंने फ्रीलांस और प्रोफेशनल फोटोग्राफर के तौर पर काम किया। फिलहाल वह दिनशॉ कंपनी से जुड़े हुए थे. उसका कई जगहों पर पैसे का लेन-देन था. 2006 विनय पुणेकर द्वारा राजनगर कैंप में रोमांच 2011 में उनकी पत्नी से तलाक हो गया. और तब से वे राजनगर के एक फ्लैट में अलग रह रहे हैं। घटना के दिन विनय पुणेकर प्लॉ ट नंबर 11 स्थित अपने घर में सो रहे थे.

विनय उर्फ ​​बब्लू पुणेकर (45, राजनगर, नागपुर)

Also Read : सड़क हादसे में एक पुलिस कांस्टेबल की मौके पर ही मौत हो गई…

शनिवार 24 फरवरी की दोपहर करीब 1.30 बजे शर्ट-पैंट पहने और बैग लिए एक व्यक्ति गेट खोलकर घर में दाखिल हुआ। उसने पुणेकर पर पिस्तौल से गोली चला दी और कुछ देर बाद वह फिर वापस चला गया. पुलिस को शक है कि उसी ने विनय पुणेकर की हत्या की है. उसकी हत्या साइलेंसर लगी बंदूक से गोली मारकर की गई थी। क्योंकि पड़ोसियों का कहना है कि उन्होंने पेड़ की किसी भी तरह की आवाज नहीं सुनी.

इस घटना के बाद पूरे कैंपस में डर का माहौल फैल गया है. घटना की जानकारी जैसे ही आसपास के लोगों को हुई तो उन्होंने घटना की जानकारी पुलिस को दी. वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे. वे शव के सीसीटीवी में कैद हुआ संदिग्ध शव का पंचनामा कर शव परीक्षण के लिए अस्पताल भेज दिया गया है. और आगे की जांच शुरू कर दी गई है. वह अज्ञात व्यक्ति पुणेकर के घर में घुसा होगा.

संभावना है कि पुणेकर से उसका झगड़ा हुआ होगा, और वह उसकी गर्दन में गोली मारकर चला गया होगा. पुणेकर हत्या की घटना सामने आने के बाद सदर पुलिस ने राजनगर की सड़कों और घटना स्थल के पास से सीसीटीवी फुटेज जब्त कर लिया है. उसके आधार पर पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है. नागपुर शहर में आए दिन हो रही हत्या की घटनाओं के बाद पुलिस की कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान लग गया है. इससे आम नागरिकों के मन में भय का माहौल पैदा हो गया है.

24 दिन में 13 हत्याएं

दिनपरिसरखून
1 फ़रवरीवाठोडा2
2 फरवरीकपिलनगर1
4 फ़रवरीवाठोडा1
9 फ़रवरीनंदवन1
10 फ़रवरीनंदवन1
10 फ़रवरीकळमना1
11 फ़रवरीनंदवन1
14 फरवरीपाचपावली1
14 फरवरीअजनी1
21 फरवरीबेलतरोडी1
22 फ़रवरीइमामवाडा1
24 फरवरीसदर1