नागभीडनागभीड
67 / 100

नागभीड की सड़कों पर हुई अफसोसनाक घटना: श्री ज्ञानेश दुर्वादास मुले की दुर्भाग्यपूर्ण मौत

नागभीड: कल शाम करीब 6:30 बजे, नागभीड चंद्रपुर रोड पर हुई एक दुर्घटना ने नगर को हिला कर रख दिया। इस हादसे का शिकार हुए युवक, श्री ज्ञानेश दुर्वादास मुले, की आयु केवल 25 वर्ष थी गाव वडसा (जुनी) जिल्हा गडचिरोली।

घटना के अनुसार, एक चार पहिया वाहन ने ज्ञानेश को करीब 6:30 बजे रोड पर टक्कर मारी। इस दुर्घटना में ज्ञानेश की मौके पर मौत हो गई, जबकि टक्कर मारने वाला चार पहिया वाहन फरार हो गया है।

पुलिस ने तत्काल क्रियावली शुरू की है और मामले की गहन जांच के लिए अग्रिम मोर्चे पर तबादला किया है। चालक की शीघ्रता से पता लगाने की कोशिशें जारी हैं।

Also read=स्कूल के दिनों का आभास: 1969 में गढ़चिरौली के छात्र राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री से मिले…

नगर के लोगों में आफसोस की हवा छाई हुई है, और वह इस दुखद घड़ी में ज्ञानेश के परिवार के साथ हैं।

इस दुर्भाग्यपूर्ण हादसे से हमें यह सिखने को मिलता है कि सड़क सुरक्षा पर हमें और भी ध्यान देना होगा। यह हम सभी के लिए एक सतर्कता का समय है, ताकि हम और हमारे परिवार सड़कों पर सुरक्षित रह सकें।

हम ज्ञानेश की आत्मा के शांति की कामना करते हैं और उनके परिवार के साथ हैं इस कठिन समय में। इस घड़ी में, हम सभी को यह समझना होगा कि सड़कों पर सुरक्षित रहना हम सभी की जिम्मेदारी है।

नागभीड

English

Tragic Incident on Nagbhid Roads: The Untimely Demise of Mr. Gyanesh Durwadas Mule

Nagbhid: Yesterday evening, around 6:30 PM, Nagbhid witnessed a heart-wrenching incident on Chandrapur Road, shaking the entire town. The unfortunate victim of this accident was a young man, Mr. Gyanesh Durwadas Mule, aged only 25, hailing from the Vadsa (Old) village in Gadchiroli district.

According to the reports, a four-wheeler collided with Gyanesh around 6:30 PM on the road. Tragically, Gyanesh lost his life on the spot, while the driver of the four-wheeler fled the scene.

The police have swiftly initiated an investigation into the matter, shifting it to the forefront of their priorities. Efforts are underway to quickly identify and apprehend the absconding driver.

The atmosphere in the town is somber, with a palpable sense of sorrow among the residents. The community stands in solidarity with Gyanesh’s grieving family during this difficult time.

This unfortunate incident serves as a stark reminder that we all need to be more attentive to road safety. It is a crucial moment for heightened awareness, ensuring the safety of ourselves and our families on the roads.

Also read=कमलापुर के आठ हाथी 12 दिन की मेडिकल छुट्टी पर!

Our thoughts are with Gyanesh’s family, and we extend heartfelt condolences during this challenging time. In these moments, we all need to understand that road safety is a shared responsibility for everyone.