शेयर बाजार
74 / 100

शेयर बाजार में 68 लाख कि धोखाधड़ी

पांच अभियुक्तों के खिलाफ मामला दर्ज

एम. ब्लैक रॉक के नाम से एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया

गोंदिया: शेयर बाजार में व्यापार करने की एक दौड़ की तरह है। जो लोग शेयर बाजार में ट्रेडिंग करके बड़ा पैसा कमाने की उम्मीद करते हैं। शेयर मार्केट ट्रेडिंग के लिए व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर 68 लाख लोगों को ठगने वाले ग्रुप के पांच सदस्यों के खिलाफ गोंदिया शहर पुलिस में धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है।

मामले का संदर्भ:

गोंदिया के मोहम्मद रजा मरनुद्दीन तिघाला (29) के खिलाफ शेयर बाजार में पैसा लगाने के लिए 20 नवंबर 2023 से 26 दिसंबर 2023 के बीच फर्जी स्टॉक मार्केट ऐप बनाने का आरोप लगाया गया था। उन्होंने अलग-अलग समय पर 12 लेन-देन करके आरोपी को 68 लाख 13 हजार 267 रुपये भेजे। इस धन के लिए 38 लाख 1 हजार फ्रॉड 101 रुपये बैंक ऑफ इंडिया, 4 लाख रुपये थिगाला ट्रेडर्स के एक्सिस बैंक से और 26 लाख 49 हजार 966 रुपये ICICI बैंक खाते से भेजे गए।

Also Read : गोंदिया में चोरी: दुकान का शटर तोड़कर 3 लाख 50 हजार 662 रुपए की चांदी-सोने की चोरी

कैसे हुआ धोखाधड़ी का अभियान:

धोखाधड़ी का मामला व्हाट्सएप ग्रुप पर खेलने के तरीके की जानकारी का लालच देकर किया गया था। मोहम्मद रजा मरनुद्दीन तिघाला (29) को लुभाने के लिए उन्हें 68 लाख 13 हजार 267 रुपये का चूना लगा दिया गया। मोहम्मद तिघाला 12 नवंबर 2023 को फेसबुक और इंस्टाग्राम का इस्तेमाल कर रहे थे।

इंस्टाग्राम पर रहते हुए उन्होंने एक लिंक देखा, जो शेयर बाजार के संबंध में जानकारी प्रदान करने वाला था। उस लिंक को खोलने पर वह एम. ब्लॉक रॉक व्हाट्सएप ग्रुप का सदस्य बन गया। उस ग्रुप में 87 लोग थे, जिनमें से 11 एडमिन थे। 16 नवंबर 2023 को उनके साथ एक एडमिन था।

लुभावने का तरीका:

मोहम्मद रजा मरनुद्दीन तिघाला (29) को शेयर बाजार में निवेश करने पर 10 से 20 प्रतिशत अधिक पैसा मिलेगा, ऐसा वादा करके धोखा दिया गया। उनके मोबाइल पर व्हाट्सएप पर चैटिंग कर ट्रेडिंग की जानकारी देते हुए एक लिंक भेजा गया। जब उस लिंक को खोला गया तो वह वीआईपी कैंसिलेशन नामक व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़ गया। आरोपियों ने तीनों मोहम्मदों को बताया और उन पर मुकदमा चलाया और उनसे 68 लाख रुपये की धोखाधड़ी की गई।